तांबे के बर्तन के फायदे और इन खाद्य पदार्थ का सेवन करे तांबे के बर्तनों में

जिस प्रकार विभिन्न प्रोटीन और विटामिन शरीर के लिए आवश्यक होते हैं। इसी तरह कॉपर यानी तांबा भी अहम भूमिका निभाता है। इसलिए, आप विभिन्न स्रोतों के माध्यम से अपने शरीर को तांबे के साथ पूरक कर सकते हैं। यह आपकी त्वचा और दिमाग के लिए बहुत फायदेमंद होता है। तो आइए जानते हैं कि आपको तांबा किन स्रोतों से मिलेगा।

तांबा आपके लिए अच्छा है या बुरा?

जब आप खाद्य पदार्थों से अपने शरीर में प्रवेश करते हैं तो कॉपर आपके लिए ठीक है, लेकिन यह तब तक सुरक्षित है जब तक प्रतिदिन 10 मिलीग्राम से अधिक मुंह से नहीं लिया जाता है। बड़ी मात्रा में मुंह से लेने पर कॉपर संभवतः यूएनएमई होता है। वयस्कों को प्रतिदिन 10 मिलीग्राम से अधिक तांबे का उपयोग करने से बचना चाहिए। 1 ग्राम कॉपर सल्फेट से किडनी खराब हो सकती है और मृत्यु भी हो सकती है।

कॉपर हमारे शरीर के लिए बहुत जरूरी है। इससे हमारी मजबूत होती रोग प्रतिरोधक क्षमताहै और शरीर को भरपूर ऊर्जा मिलती है। इसके सेवन से शरीर में लाल रक्त कणिकाओं का निर्माण होता है और यह दिमाग के लिए बहुत फायदेमंद होता है। इसलिए आप उन खाद्य पदार्थों का सेवन करें। कॉपर की अच्छी मात्रा होती है। कॉपर की कमी से अल्जाइमर हो सकता है।

इसलिए आप इन खाद्य पदार्थों का सेवन करें। कॉपर

  1. ऑयस्टर्स के लिए
  2. स्पाइरुलिना
  3. शीटके मशरूम
  4. नट्स और सीड्स
  5. लॉबस्टर
  6. पत्तेदार साग
  7. डार्क चॉकलेट

शरीर में कॉपर की पूर्ति करने के लिए, आपको विभिन्न प्रकार के सीता और नट्स का सेवन करना होगा। इसके लिए आप काजू और बादाम का सेवन कर सकते हैं। आलू में कॉपर भी पर्याप्त मात्रा में होता है।

और शकरकंद में कॉपर भी पाया जाता है। डार्क चॉकलेट में कॉपर भी होता है। जो शरीर को विभिन्न पोषक तत्व प्रदान कर कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करता है। लेकिन डार्क चॉकलेट में कैलोरी की मात्रा अधिक होती है। इसलिए इसका सेवन सीमित मात्रा में ही किया जा सकता है। तांबे के बर्तन में रखे पानी से भी तांबे की आपूर्ति होती है।

क्या तांबे के बर्तन में रखा पानी पीना अच्छा है?

रखकर पीने पानी तांबे के बर्तन में से हमारे शरीर को कई फायदे मिलते हैं और पानी पीने तांबे के बर्तन मेंसे पाचन क्रिया तेज होती है। यह विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में सहायता करता है, खराब बैक्टीरिया को मारता है, पेट की सूजन को कम करता है, चयापचय में सुधार करता है। बस यह सुनिश्चित करें कि गर्म पानी न डालें, या नींबू पानी को तांबे के बर्तन में न रखें। तांबे की बोतल में भरकर सादा पानी पिएं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *