नीम की पत्ती खाने के फायदे और नुकसान :Neem Benefits in hindi

दोस्तों नीम के अंदर काफी औषधि गुण होते हैं नीम के पत्ते, नीम की दातुन, नीम की छाल हमारे लिए काफी फायदेमंद होती है।
लोग कहते हैं कि नीम का हर एक हिस्सा अलग महत्व रखता है वे इंसान को कुछ ना कुछ फायदा जरूर पहुंचाता है।
नीम को आयुर्वेद में काफी महत्व दिया गया है।

नीम के फायदे:-

  • नीम के अंदर antioxidant गुण पाए जाते हैं जो बीमारी होने के खतरे को रोकते हैं।
  • नीम की पत्तियों में Antiseptic present होने की वजह से हमें साफ हवा मिलती है।
  • बिच्छू आदि जैसे कीटों के काटने पर नीम का लेप लगाने से राहत मिलती है इससे जहर आपके शरीर में नहीं फैलता।
  • किसी प्रकार की चोट लग जाने पर भी नीम के पत्तों का लेप लगाने से काफी फायदा मिलता है।
  • दाद खुजली जैसी समस्याएं होने पर नीम के पत्तों को पीसकर दही के साथ लगाने से फायदा मिलता है। और दाद खुजली की जैसी समस्याओं से भी राहत मिलती है।
  • मलेरिया बुखार हो जाने पर नीम की छाल को पानी में उबाल कर उस का काढ़ा बनाकर दिन में दो चार बार पिए।
  • त्वचा रोग होने पर नीम के तेल का प्रयोग करना फायदेमंद होता है।नीम के तेल से मालिश करने पर त्वचा रोग ठीक हो जाते हैं।
  • नीम की पत्तियों में पेट में पैदा होने वाले कीड़े को खत्म करने के गुण होते हैं।
  • नीम के पत्तों का प्रतिदिन सेवन करना आपकी सेहत के लिए फायदेमंद होता है।
  • सिर दर्द ,हाथ दर्द, दांत दर्द, पैर दर्द जैसी समस्या होने पर नीम के तेल की मालिश करना फायदेमंद होता है।
  • नीम की दातून से आपके दांत मजबूत होते हैं।
  • चेहरे पर कील मुंहासे होने पर नीम की छाल का लेप बनाकर लगाने से फायदा होता है।

कुल मिलाकर नीम से इंसान को काफी फायदा होता है लेकिन ऐसा नहीं है कि नीम केवल फायदेमंद होता है नीम इंसान के लिए नुकसानदायक भी होता है।

नीम के नुकसान:-

  • नीम से एलर्जी का खतरा। वैसे तो नीम के पत्तों का सेवन आपकी त्वचा के लिए काफी फायदेमंद होता है। नीम के पत्तों में पाए जाने वाले एंटीसेप्टिक गुण त्वचा संबंधित है कई एलर्जी से छुटकारा देते हैं। पर एक्सपर्ट्स का यह मानना है की नीम के पत्तों से एलर्जी भी हो सकती है।
  • हेल्थ एक्सपर्ट्स का यह भी मानना है कि नीम के हैवी डोज लेने से आपकी किडनी को भी खतरा होता है। पर अभी तक इस तरह का कोई भी मामला सामने नहीं आया है।
  • बिगाड़ सकता है ब्लड प्रेशर का संतुलन। ज्यादातर लोग शुगर का लेवल कम करने के लिए नीम से बनी हुई दवाइयों का सेवन करते है। लेकिन जनाब अगर आपने हद से ज्यादा नीम का सेवन किया तो यह नुकसानदायक भी हो सकता है।

यदि हम से पोस्ट को लिखने में कुछ गलती हुई है तो आप उस गलती को हमें कमेंट बॉक्स में लिख सकते है | और हमारी साइट बेसिक ऑफ साइंस में आने के लिए धन्यवाद और हमें इंस्टाग्राम (@basicofscience) पर फ़ॉलो करने के लिए धन्यवाद|

आवश्यक सूचना – यह पोस्ट आपको केवल जानकारी देने के लिए ही है । कुछ भी उपचार करने से पहले डॉक्टर से परामर्श या सलाह जरूर ले ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *