August 12, 2020

मुंहासे और झुर्रियां क्या है कैसे इन से छुटकारा पाएं और अपनाएं ये उपाय

हमारी साइट basic of science मैं आप सभी का स्वागत है आज हम मुहासे और झुर्रियों के ऊपर बात करेंगे की मुहासे और झुर्रियां होती क्या है तो सबसे पहले आते हैं की
झुर्रियां क्या होती है – जैसे-जैसे मनुष्य की उम्र बढ़ती है वैसे उनकी मांसपेशियां कमजोर पड़ने लगती है तथा त्वचा में झुर्रियां आने लगती है आमतौर पर वृद्धा अवस्था में पुरुषों और महिलाओं की त्वचा में तनाव कम हो जाता है जिससे त्वचा ढीली हो जाती है त्वचा में आए इसे ढीलेपन को ही झुर्रियां पढ़ना कहते हैं झुर्रियों के पढ़ने के बहुत से कारण होते हैं जैसे जब बच्चा पैदा होता है तो उसकी त्वचा ढीली होती है लेकिन कुछ ही 6 महीनों के भीतर उसकी त्वचा में तनाव आ जाता है सामान्य स्वस्थ व्यक्ति की त्वचा 40 – 50 वर्ष तक तनी और खींची हुई होती है लेकिन 40 – 50 वर्ष की उम्र के बाद त्वचा में झुर्रियां पड़ना शुरू हो जाती है युवा अवस्था में हमारे शरीर में ओइस्ट्रोजन नामक हार्मोन पैदा होता है जो हमारी त्वचा में खिंचाव उत्पन्न करके रखता है और युवा अवस्था में हमारे शरीर में इलास्टिन नामक प्रोटीन अधिक मात्रा में बनता है जिससे त्वचा के अंदर लचीलापन रहता है पर 50 वर्ष की उम्र के बाद हार्मोन का बन्ना कम हो जाता है जिससे त्वचा ढीली पड़ने शुरू हो जाती है

अब हम बात करते हैं की मुंहासे क्या होते हैं

मुंहासे (Pimples or Acne) की एक स्थिति है जो सफेद, काले और जलने वाले लाल दाग के रूप में दिखते हैं। यह लगभग 14 वर्ष से शुरू होकर 30 वर्ष तक कभी भी निकल सकते हैं। ये निकलते समय तकलीफ दायक होते हैं व बाद में भी इसके दाग-घब्बे चेहरे पर रह जाते हैं।

मुहांसों के प्रभाव को कम कैसे करें

  • मुहाँसे की शुरुआत होते ही सर्वप्रथम किसी चर्म रोग विशेषज्ञ से परामर्श ले।
  • भोजन में ज्यादा घी, तेल, मसालों का प्रयोग न करें।
  • चिकनाई वाले कॉस्मेटिक उत्पाद न लगाएं।
  • अपने मेकअप ब्रश को अच्छी तरह से धोने की आदत डालें। इससे ब्रश में बैक्टीरिया नहीं पनपते हैं।
  • चेहरे को किसी अच्छे मैडीकेटेड साबुन से धोएं।
  • बालों में रूसी न होने पाए, इस बात का ध्यान रखें।
  • अगर कोई पिंपल निकले तो उसे दबाए नहीं। ऐसा करने से पिंपल अन्य जगहों पर फैल सकता है।
  • ज़्यादा नमक खाने से पिंपल हो सकता है इसलिए सीमित मात्रा में नमक का सेवन करें।
  • कच्ची सब्जियां व कम से कम 10-12 गिलास पानी दिन में पीएं।
  • तनाव मुक्तरहें क्योंकि तनाव व नींद पूरी न होने से भी मुंहासे बढ़ते हैं।
  • मुंहासे ज्यादा हों, तो कुछ दिन के लिए बालों में तेल न लगाएं।
  • प्रात: काल ताजी स्वच्छ हवा में घूमें व व्यायाम करें।
  • गर्म चीजों का सेवन न करें।
  • ज्यादा मीठा, चाय-कॉफी, मिर्च मसाले भी कब्ज पैदा करते हैं। जिससे मुंहासे होते हैं। अत: इनका सेवन न करें।
  • होमियोपैथिक चिकित्सा भी इस समस्या में लाभकारी होती है।
  • चेहरे को धोकर गर्म पानी से भाप लें, ब्लैक हैड रिमूवर से कील दबाकर निकाल दें, अब रूई से कील वाले स्थान पर स्किन टोनर लगाएं।
  • बाद में ठंडे पानी से मुँह धो लें व फेस पैक लगा लें।
  • मुंहासों को दबाने, फोड़ने या रगड़ने से बचने का प्रयास करें।
  • हाथ या अंगुलियों से चेहरो को छूने से परहेज करें।

घरेलू उपचार

  • त्वचा को कच्चे दूध में नींबू मिलाकर रूई द्वारा साफ करें, इससे त्वचा पर जमी गंदगी हट जाएगी।
  • मुल्तानी मिट्टी में नींबू व टमाटर का रस मिलाकर लगाएं, सुखने पर धो डालें। मुल्तानी मिट्टी में चंदन पाउडर व गुलाब जल मिलाकर
  • भी लगाया जा सकता है। यह पैक त्वचा में कसाव उत्पन्न करता है व रोमछिद्रों को सिकोड़ देता है।
  • मसूर की दाल का पाउडर बना लें, अब दो चम्मच पाउडर में चुटकी भर हल्दी, नींबू की कुछ बूंदें, दही मिलाकर लेप बनायें व चेहरे पर लगायें, सूखने पर गुनगुने पानी से चेहरा धो लें।
  • एक बड़ा चम्मच तुलसी के पत्तों का पाउडर, एक चम्मच नीम के पत्तों का पाउडर और एक चम्मच हल्दी पाउडर मिला लें। थोड़ा सा मुल्तानी मिट्टी का पाउडर भी मिला लें। जब भी प्रयोग करना हो, इसका पेस्ट बनाकर सप्ताह में दो बार चेहरे पर लगाएं। चेहरा कोमल व साफ बनेगा।
  • नीम के पत्तो को बारीक पीसकर उसका पेस्ट तैयार। करे फिर इसको मुँहासे बाली जगह पर लगाये कुछ ही दिन में मुँहासे जड़ से खत्म हो जायेंगे
  • अपने बालों की सफाई का पूरा ध्यान रखें।
  • भरपूर मात्रा में पानी पिएँ|
  • कब्ज न होने दें|
  • बार-बार चेहरे को न छुएँ|
  • मुहासों ने गंभीर रूप ले लिया हो, तो त्वचा रोग विशेषज्ञ की सलाह अवश्य लें।

झुर्रियां से बचाव – ज्यादा से ज्यादा हरी सब्जियां खाएं और योगा करे और चिकित्स्क से सलहा ले

डिस्क्लेमर अगर आपको सामान्य स्थिति में यह होते हैं तो आप इन उपायों को अपना सकते हैं पर आपको चिकित्सक की सलाह लेना बेहद जरूरी है इसलिए साफ रहे और स्वस्थ रहें और चिकित्सक के परामर्श के बाद ही अपने चेहरे पर कुछ लगाएं अन्यथा ऐसी कोई भी चीज ना लगाएं जिससे आपको नुकसान हो सकता है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *